किसान बिल विधेयक 2020 क्या है जानिए किसान हिंसा का कारण – Agriculture Reform Bill 2020

किसान बिल विधेयक 2020 | Farm Bills 2020 | कृषि अध्यादेश 2020 | तीन कृषि अध्यादेश | agriculture ordinance bill |

हाल ही मे लोकसभा मे किसान बिल विधेयक 2020 पारित होने पर देश के किसान भारी रोष जता रहे है | सरकार के अनुसार देश मे ये किसान बिल कृषि इतिहास का बड़ा फेसला माना जाएगा, किसानों की आय दुगनी के बड़े प्रयास है और किसान की ससक्ति, समृद्धि सुनिश्चित होगी |

किसान-बिल-विधेयक
किसान बिल विधेयक

किसानों मे विधेयक के प्रति हिंसा का कारण, इसमे काफी कमियों और गलत फैसलों को माना जा रहा है | सड़कों पर उतरे देश के किसान, अन्न दाता को मिली जमकर लाठिया |

तीन Agriculture Bill 2020 ?

1. कृषि उत्पादन व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सुविधा) विधेयक 2020
2. सशक्तिकरण एवं संरक्षण 2020
3. आवश्यक वस्तु संशोधन बिल
किसान बिल विधेयक
  • मंडी से बाहर भी फसल खरीद सकेंगे |
  • कई फसले आवश्यक वस्तु अधिनियम से बाहर (आलू, प्याज, अनाज, दाल, की भंडारण सीमा खत्म )
  • कॉन्टैक्ट फ़ार्मिंग को बढ़ावा देने की नीति पर काम |

Farm Bills 2020 से किसानों मे डर क्या है ?

  • Kisan Bill 2020 से न्यूनतम मूल्य खत्म हो जाएगा |
  • agriculture ordinance bill 2020 किसानों की तकदीर बदलने का झुटा वादा |
  • किसान का मानना है की सरकार किसानों की वर्तमान आजादी को छिनने का काम कर रही है |
  • सरकार का मुख्य उधेश्य प्राइवेट कंपनियों और घरानों को फायदा पहुचना |
  • नए Farm Bills 2020 किसानों और आढ़तियों के खिलाफ है |
  • किसान परिवारों का शोषण होगा और पूँजीपतियों को फायदा |
कृषि बिल 2020 क्या है. फायदे और नुकसान क्या हैं. Krishi Bill का विरोध क्यों हो रहा है

ये भी पढे –

सरकार क्या बोल रही है किसान बिल विधेयक 2020 पर ?

  • सरकार का मानना है की ये अध्यादेश किसानों की तकदीर बदलने वाला है, अब तक चल रहा कृषि रूप को बदलने का एक प्रयास है | किसान देश मे कही भी अपनी फसल बेच सकेंगे,”एक-देश एक-बाजार” |
  • मिडियो और बाहर दोनों जगह MSP बना रहेगा,MSP पर कोई प्रभाव नहीं होगा |
  • आज की कृषि क्षेत्र मे आधुनिकतम तकनिक की सक्त जरूरत है जिससे किसानों को मदद मिलेगी |
  • कृषि क्षेत्र मे दलाली पूर्ण रूप से खत्म की जाएगी जिसका प्रभाव किसान आय पर पड़ेगा |
  • कॉन्टैक्ट फ़ार्मिंग पर सरकार का मानना है की देश मे कृषि जोत का आकार छोटा है और लागत ज्यादा आती है |
  • किसान की इस लागत को कम करने के लिए देश मे 2022 तक 10,000 नए FPO बनाए जाएंगे |
  • किसान समूहों के माध्यम से खेती कर कृषि लागत को कम और कृषि को लाभदायक बनाना है यह सरकार की मुख्य मंशा है |
किसान बिल विधेयक
किसान बिल विधेयक

मंत्री हरसिमर्थ Agriculture Ordinance Bill पर क्या कहना ?

माना की ये सभी बिल सही है तो केन्द्रीय मंत्री हरसिमर्त कोर ने इस्तीफ़ा क्यों दे दिया | मंत्री कोर का कहना है की जब संसद मे ये विधेयक बना रहे तब भी मेने कहा की कृषि संघटनों और कृषि क्षेत्र मे इसका बहुत विरोध है |

किसानों की बात केंद्र तक और केंद्र की बात किसानों मे पर फिर भी हमारा विश्वास न मानते हुए Farm Bills 2020 पास हुए है | सरकार का यह अध्यादेश हमारी पार्टी मान नहीं सकती और मे किसान की बेटी के नाते, किसान जिन्होंने मुझे चुना है और उनके ही खिलाफ कोई कानून हो तो मे उसका साथ नहीं दे सकती हु |

ये भी पढे –

R.Kumawat

Leave a Comment