छतीसगढ़ किसान न्याय योजना 2022-23 | राजीव गांधी योजना लिस्ट

छतीसगढ़ किसान न्याय योजना 2022| राजीव गांधी किसान न्याय योजना registration | राजीव गांधी योजना लिस्ट | राजीव गांधी किसान न्याय योजना list | rajiv gandhi kisan nyay yojana

कृषि क्षेत्र में छतीसगढ़ सरकार राज्य के किसानों और मजदूरों के लिए छतीसगढ़ किसान न्याय योजना 2022 लेकर आई है | इस योजना के तहत भूपेश बघेल सरकार किसानों की आर्थिक मदद करेगी कृषि व्यवस्था को आगे बढ़ाने के लिए मजदूरों, किसानों और आदिवासियों की जेब मे पैसे डालेगी |

छतीसगढ़-किसान-न्याय-योजना-2021
छतीसगढ़ किसान न्याय योजना 2022

बता दे की वर्तमान मे छतीसगढ़ मे काँग्रेस की सरकार है और हाल ही मे यहा के किसानों का संपूर्ण कर्जा माफ किया है | और यह की सरकार ने हाल ही मे किसानों की फसलों को बाजार से भी महगे दामों मे खरीद रही है |

किसान न्याय योजना क्या है ?

राजीव गांधी न्याय योजना के तहत छतीसगढ़ सरकार धान, मक्का, और गन्ना फसल के लिए 10,000 रुपये /एकड़ के हिसाब से सीधा खाते मे ट्रांसफर करने का प्रावधान है जिससे किसान पिछले 2 सालों से काफी खुशहाल दिखाई दे रहे है|

योजना का नामराजीव गांधी किसान न्याय योजना (Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana )
शुरुआत कब 2020
किसको मिलेगा लाभछतीसगढ़ राज्य के किसान
उधेश्येकिसानों की आर्थिक मदद करना
सरकारी साइटअभी जारी नहीं की (छतीसगढ़ कृषि पोर्टल )
वर्तमान प्रक्रियायोजना चल रही है राज्य के किसान लाभ ले –
rajiv gandhi kisan nyay yojana

छतीसगढ़ किसान न्याय योजना 2022 के मुख्य बिन्दु ?

  • देश का पहला राज्य बना है जो कोरोना संकट मे किसानों की इस तरह आर्थिक मदद किया था|
  • राजीव गांधी किसान न्याय योजना की शुरुआत 21 मई 2020 को की थी|
  • छतीसगढ़ सरकार के खजाने पर हर साल लगभग 5700 करोड़ रुपये का भार पड़ेगा |
  • इस योजना के तहत राज्य के 18 लाख 75 हजार किसानों को सीधा लाभ मिल रहा है |
  • किसान न्याय योजना के तहत किसानों को पहली प्रोत्साहन राशि 21 मई 2020 को भेजी गई थी|
  • राज्य के हर किसान को 10 हजार रुपये प्रति एकड़ के हिसाब से प्रोत्साहन राशि दि जाती है|
  • राजीव गाँधी की पुण्य तिथि को इस योजना का शुभारंभ किया गया है |
छतीसगढ़-किसान-न्याय-योजना-2021

छतीसगढ़ सरकार का Kisan Nyay Yojana लागू करने का उधेश्य ?

यहा की सरकार का मानना है की हमे कोरोना संकट मे किसानों को भी आर्थिक मार से बचाए रखना है | 21 वी सदी के आधुनिक भारत निर्माण के शुभ अवसर पर और आत्मनिर्भर भारत के निर्माण मे किसानों की आर्थिक हालतों के सुधार के बिना संभव नहीं है |

महात्मा गांधी ने कहा है की भारत की आत्मा ,गावों मे निवास करती है| छतीसगढ़ सरकार का मानना है की आर्थिक रूप से ससक्त गाँवो से ही गाँव सुधार और आत्मनिर्भर का सपना साकार हो रहा है|

Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana यहा के किसानों के लिए संकट के समय बहुत बड़ा सहारा साबित हो रही है |

यह भी पढ़े –

ग्रामीण अनाज भंडारण योजना 2022

रजनीगंधा की उन्नत खेती, किस्में, देखभाल एवं पैदावार

पीएम किसान योजना ई केवाईसी 2022

Leave a Comment

error: Alert: Content is protected !!