[ जौ का आज का भाव 17 मई 2024 ] जानिए राजस्थान में जौ का भाव क्या चल रहे है | Jo Ka Bhav Today Rajasthan

Last Updated on May 17, 2024 by krishisahara

जौ का आज का भाव | Jo ka Bhav Rajasthan | जो का भाव 2024 Rajasthan | राजस्थान में जो का भाव क्या है – जयपुर, कोटा, सवाई माधोपुर, अलवर, सीकर | Barley Price Today in Rajasthan | राजस्थान में जौ का मंडी भाव | जो का भाव कब बढ़ेगा

राज्य में इस बार फसल अच्छी देखी जा रही है, पिछले साल की बजाय इस बार भी जौ के मंडी भावों में थोड़ी कमजोरी देखी जा सकती है | निर्यात और मांग कमजोर होने से, किसान भाई भावों से नाराज है | वर्तमान में रोजाना अनाज मंडियों में जौ के भावों में 100-200 रु / क्विंटल पर उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहा है | आइए जानते है, इन दिनों जौ के भाव कहाँ-कहाँ क्या चल रहे है –

जौ-का-आज-का-भाव
जौ का आज का भाव

जौ का आज का भाव राजस्थान –

इस बार भी भाव सामान्य माने जा रहे है, प्रदेश की कई मंडियों में सरकार द्वारा निर्धारित/MSP मूल्य से कम भावों में बिक रहा है –

प्रमुख जौ आवक मंडियाँभाव रु / क्विंटल में
जयपुर मंडी 1930/-
प्रतापगढ़1950/-
विजयनगर1870/-
छोटी सादडी मंडी2050/-
मंडावरी1960/-
कोटा (अनाज) मंडी 2000/-
किसान क्रेडिट कार्डट्रैक्टर लोन पर कैसे लें
श्री माधोपुर 1920/-
अजमेर 1940/-
बांदीकुई1980/-
मालपुरा2140/-
लालसोट1930/-
सीकर मंडी 1880/-
अलवर 1970/-
निवाई1940/-
राजगढ़1970/
भाव 17 मई 2024 को अपडेट हुए है |

यह भी पढ़ें –

2024 जौ के भाव में तेजी मंदी कब आएगी ?

पिछले साल जौ की फसल को मिले थे, चमकते हुए भाव, लेकिन इस बार 400 से 500 रूपये प्रति क्विंटल तक के भाव गिरे है | मंडी जानकारों और व्यापारियों के अनुसार इस बार की नई फसल की मांग/डिमांड रही तो, 2000 से 2400 रु/क्विंटल के आस-पास के भाव मिलने की उम्मीद है |

जौ का भाव जयपुर मंडी ?

प्रदेश में जयपुर जिले की इस मंडी में, सालभर जौ फसल की अच्छी आवक बनी रहती है, भावों की बात करें तो 1600 से लेकर अच्छी क्वालिटी का जौ 2000 रु / क्विंटल में बिकता नजर आ रहा है |

जौ फसल का सरकारी रेट क्या है?

कृषि मंत्रालय द्वारा रबी फ़सली वर्ष 2024-25 के लिए अनाज की श्रेणी में जौ का समर्थन मूल्य 1850 रु/क्विंटल रखा है, जिसके लिए किसान को ऑनलाइन या तहसील स्तर पर पंजीयन करना होता है | – जौ फसल समाचार राजस्थान

जौ का उपयोग कहाँ-कहाँ होता है ?

प्रमुख रूप से देश भर में खाद्यान्न-भोजन-साबूत-आटा-दलिया इसके अलावा औषधीय रूप, शराब, नशा-सेवन प्रदार्थ, तासीर, पशु आहार, दवाईया, चारा एवं माल्ट आदि उद्धोग-धंधों में किया जाता है |

ये भी जरूर पढ़े –

दुसरो को भेजे - link share

Leave a Comment

error: Content is protected !!