[ फूलों की देखभाल कैसे करें 2023 ] यहाँ जानें – गर्मी, बरसात, सर्दी में फूलों के पौधों की देखभाल कैसे कर सकते है – How to care flower plants

Last Updated on November 20, 2022 by krishi sahara

फूलों का बगीचा हो या घर की सुंदरता वाले छोटे बगीचे या फूलों की खेती के लिए, देखरेख और सावधानियों से ही संभव है | फूल वाले पौधों में कई प्रकार के खाद, उर्वरक, सिंचाई, निराई-गुड़ाई की जरूरत होती है | आइए जानते है, फूल वाले पौधों को लेकर जुड़ी सम्पूर्ण जानकारी और देखरेख के बारे में –

फूलों-की-देखभाल-कैसे-करें

इस सुंदर लेख में आप जानोगे – गमले में पौधों की देखभाल? छोटे पौधों को हर भरा रखने के लिए क्या करें? फूल वाले पौधों के लिए अहत्वपूर्ण क्या-क्या है? फूलों के पौधों को बढ़ाने के लिए क्या करें –

फूलों की देखभाल कैसे करें ?

एक स्वस्थ पौधे के लिए सभी जरूरी पोषक कारक का होना जरूरी रहता है, जो उन्नत बीज, स्वस्थ कार्बनिक जीवाश्मयुक्त मिट्टी, सिंचाई, खरपतवार मुक्त, अनुकूल वातावरण से ही संभव है –

  • खेत या ग़मले मिट्टी की प्रत्येक 10 दिन में अच्छी निराई-गुड़ाई करें |
  • पौधे को शाम के समय पर छिड़काव विधि से सिंचाई दे|
  • फूल के पौधों को ऐसी जगह रखे या लगाए जहा दिन के समय 4 से 6 घण्टे धूप आती हो|
  • अधिक पैदावार वाले फूल के पौधों को 15 दिनों के अंतराल में जैविक खाद जरूर दे|
  • फूल के पौधे को कीटो से बचाने के लिए नीम के तेल को पानी में मिलाकर छिड़काव करे|

फूल बगीचों के अच्छे विकास के लिए 10 तरीके ?

  • बगीचा बनाने के पहले आपको इसकी मिट्टी की जांच करवा लेना, मिट्टी का पीएच मान 6 से 7 के मध्य होना चाहिए|
  • इसके बाद आपको अच्छी मात्रा में ऑर्गेनिक खाद बगीचे में डाल देना है|
  • नर्सरी द्वारा उन्नत पौधों का सीधा तैयार खेत/गमले/बगीचे में रोपाई कर सकते है, बीज द्वारा बुवाई के लिए बीज को उपचारित करके बुआई करना चाहिए |
  • गर्मी के मौसम में आपको 3 से 4 दिन के अंतराल में सिंचाई कर देनी है|
  • यदि वर्षा 5 से 6 दिनों के अंतराल में हो रही है, तो आपको सिंचाई करने की आवश्यकता ही नही है|
  • ठंड के समय अपको 10 दिनों के अंतराल में सिंचाई कर देनी है|
  • पौध बढ़वार ओर पोषकता के लिए निराई-गुड़ाई के समय आप तरल रसायनिक या जैविक खाद का भी उपयोग कर सकते है|
  • कीटो से बचाने के लिए आपको नीम के तेल को पानी में मिलाकर छिड़काव कर दे|
  • धूप के समय किसी भी रसायनिक दवा का छिड़काव नहीं करना चाहिए |

सालभर फूल के पौधे मे देखरेख ओर सावधानियाँ ?

फूल के पौधे को आपको पूरे साल देखभाल करनी होती है, आपको मौसम के अनुसार इसमें सिंचाई करनी होती है| बरसात के मौसम के मौषम में 1 माहिने में 2 से 3 बार खरपतवार प्रबंधन करना चाहिए |

गर्मी में फूलों की देखभाल –

गर्मी के समय आपको सिंचाई पर विशेष ध्यान देना चाहिए, आपको सिंचाई 4 से 5 दिनों के अंतराल में कर देनी है| इस मौसम में आपको पौधे को धूप से बचाने के लिए नेट का इस्तेमाल कर लेना है, जिससे आपके पौधे नही सूखेंगे और जरूरत के हिसाब से पौधे को धूप भी मिलती रहेगी |

बरसात सीजन में फूल पौधों की देखरेख –

इस सीजन में सिंचाई की क आवश्यकता होती है, वर्षा न होने की स्थिति में आपको सिंचाई कर देनी है| खरपतवार निवारण और खाद-उर्वरक का विशेष ध्यान रखना है| वर्षा के पानी से पौधे में विकास जल्दी होता है परंतु आपको कीटो की समस्या का ध्यान रखना है, कीट होने पर रासायनिक दावों का उपयोग करें |

How-To-Take-Care-Flowers
फूलों की देखभाल कैसे करें 2023

सर्दी में फूल के पौधे मे देखरेख –

सर्दी के मौसम में अपको फूल के पौधे को हर सप्ताह सिंचाई कर लेनी है | पौधे के आस पास नेट हाउस प्रकार की नेट/जाली का उपयोग करें, जिससे की पौधे को ठंडी हवा न लगे ज्यादा ठंड पड़ने पर भी पौधे सुख जाते है|

गमले में पौधों की देखभाल कैसें करें ?

हमारे गमले या बगीचे में अच्छे फूल खिले इसके लिए हमे पौधे की अधिक देखभाल करने की आवश्यकता होती है| नए पौधे की स्थापना के समय पुराने पेड़ों की जड़ों के आस-पास वाली मिट्टी का प्रयोग करें | मिट्टी को अच्छे से धूप मे सुखाकर गमले में भरनी चाहिए | पौधों में प्रत्येक 4 महीनों से ग़मले की 50% मिट्टी को बदलना चाहिए | और हर महीने थोड़ी मात्रा में जैविक खाद का डालना चाहिए | पौधों को धूप से मिलने वाले कारकों की पूर्ति के लिए 4 से 5 घंटे रोजाना धूप वाली जगह रखें |

फूलों की देखभाल कैसे करें 2023

छोटे पौधों को हरा भरा रखने के लिए क्या करें ?

नियमित रूप से सिंचाई, खाद और खरपतवार, धूप पर विशेष ध्यान देना होगा| इसमें आप ऑर्गेनिक खाद/सड़ी गोबर का भी उपयोग कर सकते है| फूलों के पौधे के लिए पोटाश उर्वरक एनपीके (0-0-60) का उपयोग करने से पौधे की कमजोरी ओर फूल ताजा एव अधिक संख्या में आएंगे |

फूल वाले पौधों के लिए क्या-क्या महत्वपूर्ण है ?

मिट्टी मे सभी प्रकार के पौषक तत्व मोजूद होने चाहिए, जिससे पौधों का सम्पूर्ण विकास हो सके | पौधे को नियमित रूप से सिंचाई, धूप, खरपतवार और खाद नियमित रूप से मिलना महत्वपूर्ण है| आपको पौधे को कभी छाव में नही रखना चाहिए पौधे को कम से कम 6 घंटे प्रतिदिन धूप की आवश्यकता होती है|

फूलों के पौधों को बढ़ाने के लिए क्या करें?

फूलों की वृद्धि और पौधे को हरा भरा रखने के लिए NPK खाद का प्रयोग करना चाहिए | या फिर ऑर्गेनिक खाद, सिंचाई और खरपतवार, कीट-रोग निवारण पर भी विशेष ध्यान देना है|

फूल के पौधे के लिए सबसे अच्छा उर्वरक?

फूल के पौधे के लिए सबसे अच्छा उर्वरक सड़ी गोबर, पशुओं-मनुष्यों के मल-मूत्र से बनने वाली खाद और वर्मी कम्पोज खाद, एनपीके आदि सबसे अच्छा उर्वरक माना जाता है|

यह भी जरूर पढ़ें…

Leave a Comment

error: Alert: Content is protected !!