[ किसान ड्रोन योजना 2023 ] हर किसान को मिलेगी 5 लाख की सब्सिडी आज ही खरीदे, एग्रीकल्चर ड्रोन कितने का आता है – Agricultural Drone in hindi

Last Updated on November 20, 2022 by krishi sahara

हमारे देश की केंद्र सरकार और राज्य सरकार किसान भाईयो को कृषि की नई तकनीकों से जोड़ रही है, सरकार की सहायता से किसान भाई भी इस नई तकनीक को अपनाने में अपनी जागरूकता बढ़ा रहे है| इसके चलते अब भारत सरकार ने किसान ड्रोन योजना 2023 के माध्यम से किसानों को ड्रोन खरीदी पर भारी सब्सिडी दी जाएगी|

किसान-ड्रोन-योजना

इस लेख के मध्यम से आप जानोगे – किसान ड्रोन योजना से संबधित सम्पूर्ण जानकारी के बारे में, जैसे की किसान ड्रोन योजना क्या है? कृषि में ड्रोन के उपयोग? ड्रोन खरीदने पर कितनी मिलेगी सब्सिडी? ड्रोन की कीमत? किसान ड्रोन योजना में आवेदन –

किसान ड्रोन योजना 2022 क्या है?

किसान ड्रोन योजना को केंद्र सरकार द्वारा शुरू बहुत ही महत्वाकांक्षी योजना साबित हो रही है, इस योजना से सरकार का मुख्य उद्देश्य है की किसानों को कृषि ड्रोन खरीदने पर सब्सिडी / अनुदान प्रदान कराना है| इस योजना के माध्यम से देश के सभी किसानों को ड्रोन खरीदने पर 50% या अधिकतम 5 लाख रुपए तक की सब्सिडी मिलेगी|

इस कृषि ड्रोन यंत्र में लैंड रिकॉर्ड के डिजिटलीकरण होगा, खेत में कीटनाशक तथा पोषण तत्वों का छिड़काव करने के लिए सरकार ड्रोन के उपयोग को बढ़ावा दे रही है|

ड्रोन की मदद से अब किसान खेती में खड़ी फसलों पर यूरिया और अन्य कीटनाशकों का छिड़काव कम समय में बड़े आसानी से कर सकेंगे, इससे किसने का समय बचेगा और कीटनाशक, दावा, खाद तथा उर्वरक की बचत होगी|

एग्रीकल्चर ड्रोन स्कीम हाईलाइट बिन्दु –

योजना का नामकिसान ड्रोन योजना 2023
किसके द्वारा शुरू कीकेंद्र सरकार द्वारा योजना शुरू की
लाभभारत देश के सभी किसान शामिल
उद्देश्यकृषि ड्रोन खरीद पर अनुदान देना
आवेदन करने की प्रक्रियाऑफलाइन /ऑनलाइन प्रक्रिया
सब्सिडी सहायता राशीड्रोन खरीदने पर 50% या अधिकतम 5 लाख रुपए तक की सब्सिडी
योजना का स्टेटसयोजना चालू है
ऑफिसियल वेबसाइटhttps://agricoop.nic.in/

कृषि में ड्रोन का उपयोग कैसे करें?

यह तकनीक खेती मे बहुर ही कारगर साबित होती दिखाई दे रही है, इस ड्रोन से सामान्य ओर बड़े रकबे वाले किसान भाई अपनी फसलों की केमरा निगरानी, तरल उर्वरक छिड़काव, कीटनाशक टिडकाव आसानी से कर सकते है –

  • सबसे पहले आपको ड्रोन के पंख खोल लेना है और इसके बाद आपको ड्रोन के अंदर स्थित एक टैंक में दवाई अच्छे से मिलाकर डाल देनी है|
  • इसके बाद आपको नोजल में से एयर निकाल देनी है|
  • यदि आप ड्रोन को खुद चलाने वाले है तो फिर आपको मैनुअल मोड कर देना है|
  • ऑटो मोड में ड्रोन ऑटोमैटिक चलता है, लोकेशन के हिसाब से स्प्रे चालू हो जाता है|
  • फिर आपको इसे रिमोट से स्टार्ट कर देना है|
  • ड्रोन को आपको खेत के 5 मीटर से ऊंचा रखना होगा तभी दवाई अच्छे से लगेगी |

ड्रोन खरीदने पर कब और कितनी मिलेगी सब्सिडी?

राज्यो सरकारों द्वारा हर प्रदेश मे सब्सिडी की राशी अलग-अलग निर्धारित की गई है, सामान्य रूप से अनुसूचित जाति / जन जाति वर्ग, महिला किसान को ड्रोन खरीदने पर 50% तक की सब्सिडी मिलेगी तथा अधिकतम 5 लाख रुपए की आर्थिक मदद मिलेगी और बाकी अन्य किसानों को 40% तक की सब्सिडी मिलेगी या अधिकतम 4 लाख रुपए की मदद मिलेगी|

किसान ड्रोन योजना में रजिस्ट्रेशन कैसे करे?

  • किसान ड्रोन योजना में यदि आप रजिस्ट्रेशन करना चाहते है, तो आपको सर्वप्रथम इस योजना की ऑफिसियल वेबसाइट या प्रदेश के कृषि बोर्ड के पोर्टल पर जाना होगा|
  • इसके बाद आपको किसान ड्रोन योजना के विकल्प पर क्लिक करना है|
  • फिर आपके सामने एक आवेदन फॉर्म पीडीएफ खुलेगा|
  • इस पीडीएफ को आपको प्रिंट निकलवा लेना है|
  • फिर आपको आवेदन फॉर्म में पूछी गई जानकारी ध्यान से दर्ज कर देना है|
  • इसमें मांगे गए दस्तावेज को इसके साथ अटैच कर देना है|
  • अंत में अपको इस फॉर्म को नजदीकी कृषि कार्यलय में जाकर जमा करवा देना है|

किसान ड्रोन की कीमत क्या है?

किसान ड्रोन की कीमत भारतीय बाजार में 50 हजार से लेकर अधिक क्षमता वाले ड्रोन की कीमत 7 लाख रुपए तक देखने को मिलती है| आपको अपने खेती के रकबे और सब्सिडी के अनुसार ड्रोन का चयन कर सकते है |

एग्रीकल्चर ड्रोन के प्रमुख लाभ ?

  • इस योजना के माध्यम से कृषि क्षेत्र में तकनीक को बढ़ावा दिया है|
  • ड्रोन का उपयोग करने से 8 मिनट प्रति एकड़ की दर से आसानी से कीटनाशक, दवाई तथा यूरिया का छिड़काव किया जा सकता है|
  • वर्तमान समय में देश के कुछ ही राज्यो में ड्रोन का उपयोग करने लगे है|
  • योजना के माध्यम से किसानों को ड्रोन खरीदने के लिए सरकार की और से अधिकतम 4 लाख से 5 लाख रुपए तक की सब्सिडी प्रदान की जाती है|
  • ड्रोन का उपयोग करने पर किसान आत्म निर्भर बन जाएंगे|
  • दवा छिड़काव के समय होने वाली मानव श्रम लागत ओर समय की बचत हो सकेगी |
  • फसलों मे होने वाली कीट-रोगों की समस्या समय पर निवारण हो जाता है |
  • कृषि यंत्र ड्रोन की मदद से फसल बुआई से लेकर दवाई छिड़काव करने का काम आसान होगा|

खेती में उपयोग होने वाले ड्रोन के फीचर/क्षमता/कार्य ?

ड्रोन के यदि हम कार्य की बात करें, तो ड्रोन के माध्यम से हम सिंचाई निगरानी, फसल स्वास्थ्य की निगरानी, फसल नुकसान का आकलन और कीटनाशकों का छिड़काव, केमरा से फसल सुरक्षा आदि इसके प्रमुख कार्य है|

इसकी कार्य क्षमता मनुष्य के कार्य क्षमता से कई गुना अधिक है, यह कृषि ड्रोन यंत्र 8 मिनट प्रति एकड़ की दर से आसानी से कीटनाशक, दवाई तथा यूरिया का छिड़काव किया जा सकता है|

खेती में ड्रोन का उपयोग को लेकर सरकार का प्रयास ?

सरकार कृषि क्षेत्र को उन्नत तकनीकों से जोड़ना चाहती है, जिससे की किसानों लाभ मिले और आत्मनिर्भर बने, ड्रोन का उपयोग करके किसान कम समय में अधिक काम ड्रोन के माध्यम से करवा सकता है| सरकार भी किसानों को ड्रोन का उपयोग करने का भारी सब्सिडी छूट के साथ सुझाव दे रही है|

एग्रीकल्चर-ड्रोन-कितने-का-आता-है

भारत में कृषि हेतु ड्रोन बनाने वाली कंपनी कौन सी है?

भारत में कृषि हेतु ड्रोन बनाने वाली कंपनी निम्न है जैसे की Zen Tech, Paras Defense, DCM Shriram, Rattan India Enterprises और BSL आदि कंपनी एग्री ड्रोन बनाती है|

एग्रीकल्चर ड्रोन प्राइस इन इंडिया ?

भारतीय बाजार में आपको कृषि ड्रोन लगभग 50 हजार से लेकर अधिक क्षमता ओर फीचर वाला 7 लाख रुपए तक के आस-पास मिलता है | – अधिक जानकारी

यह भी जरूर पढ़ें…

Leave a Comment

error: Alert: Content is protected !!