[ सरसों काटने वाली मशीन 2023 ] यहां जानिए सरसों हार्वेस्टर, रीपर, कटर, सरसों काटने का रीपर – Sarson kaatne wali machine

Last Updated on December 14, 2022 by krishi sahara

सरसों काटने वाली मशीन | सरसों काटने की मशीन | sarson kaatne wali machine | sarson katne wali machine | sarson kaatne ki machine | सरसों काटने वाला हार्वेस्टर | सरसों काटने की हार्वेस्टर | सरसों काटने वाला रीपर | सरसों काटने वाला कटर | सरसों काटने वाली रीपर

सरसों-काटने-वाली-मशीन

आज की खेती और किसान आधुनिक मशीनों पर ज्यादा निर्भर हो गये, जिसके कारण कृषि उधोग कई गुना विकशित होता जा रहा है| आज हम बात करेंगे सरसों काटने वाली मशीन के बारे में जो सरसों की फसल को बहुत ही उच्च दक्षता और कुशलता/सफाई के साथ खड़ी फसल को कम समय में काट देती है| किसान इन मशीनों को अपने खेत और व्यवसाय के रूप में खरीदकर पैसा और समय बचा सकते है |

सरसों काटने वाली मशीन ?

आज के समय बाजार में अनाज की फसलों की कटाई-मढ़ाई हेतु एक से बढकर एक मशीने उतर आई है, ये मशीने उपयोग, आवश्यकता, फसलो के प्रकार, पावर, मोडल, आदि के आधार पर आप खरीद सकते है| सरसों काटने की मशीन को मुख्यत तीन प्रकार से देख सकते है –

1. सरसों फसल की कटाई-मढ़ाई कंबाइन मशीन

कंबाइन मशीन ये मशीने काफी हेवी ड्यूटी मशीने होती है, जिनकी सरसों कटाई क्षमता भी उच्च होती है| ये मशीन डीजल/पेट्रोल फ्यूल के साथ काम करती है जिनकी कीमत 5 लाख रूपये से लेकर टॉप मशीन 40 लाख रूपये तक की आती है| मशीन के इस प्रकार में छोटी मशीने एक घंटे में 5 एकड़ से लेकर बड़ी मशीन 10 एकड़ तक की कटाई छटाई कर सकती है |

sarson-kaatne-wali-machine

2. सरसों की कटाई के लिए रीपर मशीन –

यह कटाई की मशीन कम कीमत और ज्यादा फीचर/विकल्पों के साथ मिलती है| मोडल के अनुसार बाजार में यह हाथ से चलने वाली आवर स्वचालित सीटयुक्त भी मिलती है| सरसों की कटाई के लिए यह रीपर मशीन ट्रेक्टर, डीजल इंजन, आदि के साथ जोडकर भी चला सकते है जिससे इसको अच्छी पावर और दक्षता में चलाया जा सकता है |

  • डीजल और पेट्रोल फ्यूल खपत वाले इंजन लगे होते है जिनकी मदद से अच्छी पावर और काम ले सकते है |
  • ये मशीने 40 हजार रूपये से लेकर अधिकतम 2 लाख रूपये तक की कीमत में आसानी से मिल जाते है |
सरसों-काटने-की-मशीन

3. सरसों काटने वाला कटर मशीन

सरसों, गेहूँ, मक्का, बाजरा, धान आदि फ्सको को काटने के लिए यह मशीन काफी सस्ती और टिकाऊ मानी जाती है| कम खेती रकबे वाले किसान इस प्रकार की मशीन को ज्यादातर खरीदते है| इस मशीन की दक्षता कम होती है एव इसे चलाने के लिए एक किसान/व्यक्ति की जरूरत होती है |

सरसों की कटाई कब की जाती है ?

सरसों की फसल का कार्यकाल 100-110 दिन तक का होता है, लगभग मार्च के पहले सप्ताह तक उतरी भारत में फसले पककर तैयार हो जाती है, अगेती और पछेती होने के कारण 15 फरवरी से मार्च अंतिम तक कटाई होकर बाजार में आने लग जाती है| मौषम को ध्यान में रखते हुए कटाई समय पर कर लेनी चाहिए |

कृषि यंत्र सब्सिडी योजना?

Kisan Krishi Yantra Subsidy Anudan के तहत राज्य सरकारे जिलेवार लक्ष्यों के अनुरूप अनुदान देती है| किसान किसी भी प्रकार के कृषि यंत्र खरीदते समय योजना की जानकारी लेवे और आवेदन करके योजना का लाभ ले सकते है, सरकार किसान की श्रेणियों के अनुसार 20% से लेकर अधिकतम 75% तक की सब्सिडी राशी दी जाती है |

यह भी जरूर पढ़ें…

Leave a Comment

error: Alert: Content is protected !!